थाना फेस 2 पुलिस ने इनवर्टर बनाने वाली कंपनी में डकैती डालने वाले चार बदमाशों को गिरफ्तार किया है। आरोप है कि बदमाशों ने 20 अगस्त को गार्डों को हथियार के बल पर बंधक बनाकर कंपनी मे डकैती डाली थी।

पुलिस ने गिरफ्तार आरोपियों के कब्जे से लूट का कुछ माल बरामद किया है। इस मामले में फेस टू पुलिस ने डकैती की घटना को चोरी में दर्ज किया था। फिलहाल पुलिस इस मामले में फरार अन्य आरोपियों की तलाश कर रही है

20 अगस्त की रात सेक्टर 81 स्थित प्रोटोनिक्स फॉर्च्यूनर प्राइवेट लिमिटेड कंपनी में हुई डकैती की घटना का खुलासा करते हुए पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

इनकी पहचान आरिफ निवासी मेरठ, फिरदौस निवासी बिहार, कफील निवासी बुलंदशहर और मोहसिन निवासी मेरठ के रूप में हुई है।

थाना प्रभारी सुजीत उपाध्याय ने बताया कि आरोपियों के पास से कंपनी परिसर में बने मंदिर से लूटी गईं 4 सोने की मूर्तियां, घटना में प्रयोग की गई सेंट्रो कार और 50 हजार रूपए नगद बरामद किए गए हैं।

बदमाशों से पूछताछ कर उनके अन्य साथियों की तलाश की जा रही है, साथ ही लूटे गए माल की बरामदगी के प्रयास किए जा रहे हैं।

मामला?

सेक्टर-81 में सी-45 स्थित प्रोटोनिक्स फॉच्यूर्नर इंडिया प्राइवेट लिमिटेड कंपनी में इनवर्टर, एलईडी लाइट बनाने का काम होता है।

कंपनी के एचआर हेड सुमेश मलिक ने बताया था कि 20 अगस्त को आधी रात कंपनी की दीवार फांदकर चार बदमाश कंपनी के अंदर दाखिल हुए थे और करीब 5-6 बदमाश कंपनी के बाहर ट्रक लेकर खड़े थे।

हथियारबंद बदमाशों ने मेन गेट पर तैनात गार्ड गणेश व राजकुमार को मारपीट कर बंधक बना लिया था। इसके बाद बदमाशों ने कटर से कंपनी के अंदर लगे छह ताले को काट दिया और करीब सवा घंटे तक कंपनी के अंदर रहते हुए साढ़े पांच लाख रुपये नगद लूट लिए।  

लूट के सामान को बदमाश कंपनी के बाहर खड़े ट्रक में डाल कर आसानी से फरार हो गए थे।

बदमाशों के भागते वक्त कंपनी के पिछले हिस्से में तैनात तीसरा सिक्योरिटी गार्ड जब आगे आया तो बदमाशों ने उसके साथ मारपीट करते हुए उसका मोबाइल छीन लिया था।

Share.

Comments are closed.