कहा जाता है कि पति-पत्नी का रिश्ता सात जन्मों का होता है लेकिन एक ऐसा मामला सामने आया है जिसने इस कहावत को झुठला दिया है। बिहार के पटना जिले में पति द्वारा खेत बेच कर पत्नी के बैंक खाते में भेजे गए 39 लाख रुपये लेकर पत्नी पड़ोसी के साथ चली गई है।

दोनों के बीच पहले से प्रेम प्रसंग बताया जा रहा है। पत्नी ने अपने खाते में सिर्फ 11 रुपये छोड़कर पूरा खाता साफ कर दिया है। अब बेचारा पति दर दर की ठोकरें खाते हुए गुहार लगा रहा है मामला बिहार के पटना जिले का है।

पटना के बिहटा स्थित कौड़िया गांव के निवासी ब्रजकिशोर सिंह की 14 साल पहले भोजपुर जिला के बड़हरा थाना क्षेत्र के बिंद गांव की प्रभावती के साथ हुई थी।

ब्रजकिशोर गांव में ही खेती-किसानी करता था। बिहटा में किराए के मकान में रहने के दौरान ब्रजकिशोर खुद खेती करता था। इसी बीच उसने खेती छोड़ दी और कमाने के लिए गुजरात चला गया।

उन दोनों के दो बच्चे, एक बेटा और एक बेटी है। इसी बीच पति ब्रज किशोर कमाने के लिए गुजरात चले गए। इस दौरान प्रभावती का संबंध पड़ोस के एक युवक से हो गया।

पत्नी के कहने पर ब्रजकिशोर ने शहर में घर बनाने के लिए गांव की अपनी जमीन बेच दी। पत्नी के कहने पर ब्रजकिशोर ने जमीन की बिक्री से मिले 39 लाख रुपये उसके बैंक एकाउंट में ट्रांसफर कर दिया। इसी बीच मौका पाकर पत्नी प्रभावती अपने प्रेमी के संग फुर्र हो गई।

बता दें कि उनके दोनों बच्चे शहर में रहते हैं। पति ब्रज किशोर ने बताया कि पत्नी ने कहा था कि जब हम लोग शहर में ही रहते हैं तो क्यों न एक घर यहीं बना लिया जाए। कब तक किराया देते रहेंगे। उसकी बातों में आकर मैंने गांव का खेत बेच दिया।

उससे मिले 39 लाख रुपए प्रभावती के एकाउंट में डाल दिया, ताकि उस रुपए से शहर में जमीन खरीदकर घर बनवा सकें और खुशी-खुशी जीवन बसर कर सकें। लेकिन नहीं पता था कि इस तरह हमारा घर ही बर्बाद हो जाएगा।

Share.

Comments are closed.