भाकियू अन्नदाता ने शिक्षण संस्थानों और प्राइवेट अस्पतालों के अधिग्रहण की मांग को लेकर कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन कर सिटी मजिस्ट्रेट रामजी मिश्रा को 5 सूत्रीय ज्ञापन सौंपा.

पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अंतर्गत भारतीय किसान यूनियन अन्नदाता के कार्यकर्ता जिला कचहरी रामपुर परिसर में एकत्रित हुए तथा प्राइवेट शिक्षण संस्थानों और अस्पतालों के अधिग्रहण की मांग को लेकर जोरदार प्रदर्शन करने के बाद प्रधानमंत्री को संबोधित 5 सूत्रीय ज्ञापन नगर मजिस्ट्रेट रामजी मिश्रा को सौंपा.

इससे पूर्व उस्मान अली पाशा ने कहा जहां एक और सरकार कभी भी आवश्यकता होने पर किसानों की खेती की जमीन और मकानों का उनकी मर्जी के विरुद्ध अधिग्रहण कर लेती है वही प्राइवेट शिक्षण संस्थान और अस्पताल खुलेआम लूट मचाए हुए हैं.

सभी सरकारी कर्मचारियों और अधिकारियों के बच्चे प्राइवेट स्कूलों में शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं और सरकारी डाक्टर अपने परिवार के लोगों का इलाज भी प्राइवेट अस्पतालों में कराते हैं जबकि नियम होना चाहिए किसी भी सरकारी नौकर पेशा अधिकारी या कर्मचारी को अपने बच्चों को केवल सरकारी स्कूल यूनिवर्सिटी आदि में शिक्षा दिलाना चाहिए और सरकारी अधिकारी कर्मचारी और नेताओं को केवल सरकारी अस्पतालों में ही इलाज की अनिवार्यता होना चाहिए.

क्योंकि शिक्षा और चिकित्सा का व्यवसायीकरण आमजन के लिए बेहद घातक है उन्होंने सरकार से तुरंत इस पर रोक लगाने की मांग करते हुए सभी प्राइवेट अस्पतालों और शिक्षण संस्थानों का सरकारी अधिग्रहण करने की मांग की
प्रदर्शन कर ज्ञापन देने वालों में जिला अध्यक्ष शादाब हुसैन महिला मोर्चा मंडल उपाध्यक्ष शबाना खान फरहा खान रफत जहां रागिव खान जीनत खान मोहम्मद इमरान खान उल्लाह खान मुकम्मिल हुसैन संजीव राजपूत आदि लोग मौजूद रहे.

Share.

Comments are closed.