वाराणसी के काशी विद्यापीठ के छात्रनेता व निषाद पार्टी युवा मोर्चा के प्रदेश महासचिव रहे गाजीपुर निवासी मनीष चौधरी को विकासशील इंसान पार्टी द्वारा प्रदेश महासचिव बनाया गया है।

जिसके बाद उनके समर्थकों में हर्ष का माहौल है। प्रदेश महासचिव बनने के बाद छात्रनेता ने निषाद पार्टी को अपना इस्तीफा भेज दिया है। विकासशील पार्टी में जिम्मेदारी मिलने के बाद मनीष ने बताया कि निषाद पार्टी की गलत नीतियों व समाज को गुमराह करने वाली सोच से वो संतुष्ट नहीं थे।

कहा कि उन्होंने समाज की सेवा के लिए निषाद पार्टी को छोड़कर वीआईपी का दामन थामा। कहा कि आने वाले विधानसभा चुनाव में पीआईपी अहम भूमिका निभाते हुए निषाद बाहुल्य 160 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारेगी। कहा कि आरक्षण नही तो गठबंधन नहीं।

जो भी पार्टी निषाद समाज को आरक्षण देने की संपूर्ण जिम्मेदारी लेगी,वीआईपी उसी से गठबंधन करके निषादों का वोट दिलाएगी।

Share.

Comments are closed.