फर्रुखाबाद के थाना मेरापुर क्षेत्र के पखना चौराहे पर डीसीएम और बोलेरो की आमने सामने हुई भिड़ंत में बोलेरो सवार 2 महिलाओ की हुई दर्दनाक मौत जबकि 11 लोग हुए गंभीर रूप से घायल टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि बोलेरो के परखच्चे उड़ गए । घटना के बाद चालक डीसीएम छोड़कर मौके से हुआ फरार हादसे का शिकार हुए लोग जनपद एटा से रिश्तेदार के अंतिम संस्कार में शामिल होकर अपने घर वापस लौट रहे थे ।

जहानगंज थाना क्षेत्र के गांव अजीजलपुर निवासी मोहम्मद इस्ताक के बहनोई जनपद एटा के गांव नदराला निवासी मुन्ने खां की मौत हो गई थी । उनके अंतिम संस्कार में शामिल होने मोहम्मद इस्ताक के परिवार और गांव से 24 लोग अलग-अलग वाहनों से गए थे । वह लोग बोलेरो से लौट रहे थे ।

मेरापुर थाना क्षेत्र के पखना चौराहे के पास बेकाबू डीसीएम ने सामने से आ रही इनकी बोलेरो में टक्कर मार दी ।

टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि बोलेरो के परखच्चे उड़ गए । हादसे में अजीजलपुर निवासी 22 वर्षीय मतलूब, 25 वर्षीय आशमा पत्नी राशिद, 20 वर्षीय शीबू, 35 वर्षीय नगमा बेगम पत्नी मुकीम खां, 35 वर्षीय खुर्शीदा बेगम पत्नी लईक, 45 वर्षीय फिरदोस बेगम पत्नी कुन्ने, 40 वर्षीय नौशाद, 25 वर्षीय जिआउद्दीन, 60 वर्षीय खुशनूदी, 24 वर्षीय जनवेद, 22 वर्षीय जीशान, 60 वर्षीय मुनीजा पत्नी स्व. अतीक, 45 वर्षीय साजिदा पत्नी अमरुद्दीन, अलीपुर, एटा निवासी गुलप्सा पत्नी उवैश घायल हो गए । इन सभी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मोहम्दाबाद लाया गया।

यहां पर प्रभारी चिकित्साधिकारी डा. गौरव यादव और डा. आसमा वशीम ने साजिदा और मुनीजा को मृत घोषित कर दिया । घायलों की गंभीर हालत को देखते हुए जिला अस्पताल लोहिया के लिए रेफर कर दिया गया । वहीं थाना मेरापुर और मोहम्मदाबाद कोतवाली पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले की जांच की ।

अपर पुलिस अधीक्षक अजय प्रताप ने जिला अस्पताल राम मनोहर लोहिया में पहुंचकर घायलों का हालचाल लिया। उन्होंने बताया कि हादसे के बाद चालक डीसीएम छोड़कर मौके से भाग गया है । डीसीएम कब्जे में ले ली गई है । तहरीर मिलने पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी । वहीं जिला अस्पताल राम मनोहर लोहिया में मची अफरातफरी ।

Share.

Comments are closed.