अफगानिस्तान से मंगलवार को भारत आए 78 लोगों में से 16 कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। एहतिहातन सभी 78 लोगों को क्वारैंटाइन किया गया है। सभी 16 लोग एसिम्प्टोमैटिक हैं- यानी उनमें वायरस के लक्षण नहीं दिख रहे हैं।

इन 16 लोगों में वे तीन सिख भी शामिल हैं जो काबुल से श्री गुरु ग्रंथ साहिब की तीन प्रतियां सिर पर उठाकर लाए थे। केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने दिल्ली एयरपोर्ट पर इन प्रतियों को प्राप्त किया और एक प्रति को अपने सिर पर रखकर चले।

अब तक अफगानिस्तान से 626 लोगों को भारत लाया गया है, जिसमें 77 अफगानी सिख और 228 भारतीय हैं। इन भारतीयों में अफगानिस्तान की एम्बैसी में काम करने वाले लोग शामिल नहीं हैं।

अफगानिस्तान में बदतर होते जमीनी हालात

तालिबान के कब्जे के बाद से अफगानिस्तान में बैंकिंग और स्वास्थ्य सेवाएं बदहाल हैं। एटीएम खाली हैं। खाने-पीने, दवाई से लेकर हर जरूरी सामान की कीमतें तीन गुना तक बढ़ गई हैं।

बड़ी संख्या में महिला नर्स काम पर नहीं लौटी हैं। WHO ने कहा है कि काबुल एयरपोर्ट पर लगे प्रतिबंध के कारण 500 टन से ज्यादा मेडिकल सप्लाई अफगानिस्तान नहीं पहुंच पा रहा है।

Share.

Comments are closed.