हिंदू संगठनों ने स्टेट हाईवे पर जाम लगाया जिसे लेकर भारी संख्‍या में पुलिस बल तैनात किया गया है। भीड़ ने पुलिस पर पथराव किया, फलस्‍वरूप हालात को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। मामले में भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष सहित कई कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है।

फलस्‍वरूप हालात को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा, जवाब में कार्यकर्ताओं ने पथराव किया। मामले में भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष सहित कई कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है।

दरअसल, 16 अगस्त को प्रशासन ने प्रोटोकॉल का पालन करते हुए परंपरागत रूप से निकलने वाली बैजनाथ की शाही सवारी को शहर में निकाला था जिसके बाद हिंदू संगठनों ने विरोध करते हुए कहा था कि यह भक्तों की भावना के साथ खिलवाड़ हो रहा है।

इसी के चलते 16 अगस्त को ही विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने वाहन रैली निकाली और चक्काजाम कर विरोध किया। इन्‍होंने 23 अगस्त को दोबारा से शाही सवारी निकालने की मांग की जो आज इस उपद्रव के रूप में सामने आई।

अभी तक मिली जानकारी के अनुसार, भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष मयंक राजपूत के अलावा हिंदू संगठन के कई कार्यकर्ता पुलिस की गिरफ्त में है, वहीं कांग्रेस के विधायक विपिन वानखेड़े भी नजरबंद बताए जा रहे हैं।

सवारी दोबारा निकाले जाने को लेकर पिछले एक हफ्ते से प्रशासन पर हिंदू परिषद के अलावा भक्त मंडल द्वारा लगातार दबाव बनाया जा रहा था।

Share.

Comments are closed.