थाना मितौली क्षेत्र के ग्राम कमलापुर निवासी ग्राम रोजगार सेवक मनोज कुमार (32 वर्ष) की गांव के ही व्यक्तियों द्वारा गांव के नजदीक ही धारदार हथियार के ताबड़तोड़ प्रहारों से हत्या कर दी गई। पुलिस मामले की पड़ताल कर रही है। शव को पोस्‍टमार्टम के लिए भेजा गया।

यह है मामला: 21 अगस्त की देर शाम मनोज दतेली बाजार से सामान लेकर अपने घर वापस आ रहा था तभी कमलापुर गांव के समीप भी घात लगाए बैठे हमलावरों द्वारा मनोज के मुंह पर धारदार हथियार से प्रहार कर हत्या कर दी गई।

मनोज कुमार की माता केतकी ने बताया उनके घर के पड़ोसी ही सफाई कर्मी अमरजीत आदि व्यक्तियों से चुनाव की रंजिश को लेकर विवाद चल रहा था। 5 वर्ष पूर्व ग्राम प्रधान के चुनाव में मनोज तथा अमरजीत के बीच में झगड़ा भी हुआ था। जिसमें दोनों पक्षों की तरफ से मितौली थाने में अभियोग पंजीकृत किया गया था। पुलिस द्वारा दोनों पक्षो को जेल भी भेजा गया था।

केतकी ने बताया किस सन 2018 में उनके पति त्रिवेणी प्रसाद के दोनों हाथ विपक्षियों द्वारा तोड़ दिए गए थे जिसका अभियोग भी थाना मितौली में पंजीकृत कराया गया था और वह मुकदमा न्यायालय में अब भी विचाराधीन है।

मनोज कुमार की हत्या के संबंध में मितौली पुलिस को जानकारी मिलते ही तत्काल प्रभाव से थाना प्रभारी अनिल कुमार सैनी घटनास्थल पर पहुंचे। घटनास्थल के मौके का मुआयना एसपी खीरी विजय ढुल तथा पुलिस उपाधीक्षक मितौली संदीप सिंह भी घटना की सूचना पाकर मौके पर गए। शव को पुलिस द्वारा पंचनामा भरा कर पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय भेज दिया गया।

बता दें कि मृतक के 3 बच्चे बड़ी लड़की चावली उम्र 11 वर्ष, दूसरी लड़की किंजल उम्र 9 वर्ष सबसे छोटा पुत्र सिद्धार्थ 6 वर्ष व मृतक की पत्नी तथा परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है। घटना को लेकर गांव में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। परिवारीजन द्वारा चार व्यक्तियों के विरुद्ध थाना मितौली में नामजद मुकदमा पंजीकृत कराया गया है। गांव में वारदात के बाद से तनाव का माहौल है।

Share.

Comments are closed.