बिनौली क्षेत्र के कमाला गांव के जंगल में स्थित बाबा भेंडीनाथ मंदिर में आधा दर्जन नकाबपोश बदमाशों ने पुजारी को बंधक बनाकर हजारों की नकदी और ढाई लाख का सामान लूट लिया।

सूचना पर पहुंचे पुलिस के अधिकारियों ने घटना की जानकारी ली। कमाला जूड के जंगल मे चिरचिटा मार्ग पर बाबा भेंडीनाथ मंदिर है। जिसमें अन्नुनाथ महाराज पुजारी हैं।

देर रात आधा दर्जन नकाबपोश बदमाश मंदिर परिसर के भवन के ऊपरी हिस्से में पहुंचे। वहां सो रहे पुजारी को बदमाशों ने कपड़े से हाथ पैर बांधकर एक जगह बैठा दिया।

बदमाशों ने पुजारी से कमरे की चाबी ले ली। बदमाशों ने कमरे में रखी करीब तीस हजार की नकदी, कंबल, रजाई, शॉल व अन्य कीमती कपड़े, चीनी के कट्टे, देशी घी व तेल के टिन, इंवर्टर आदि सहित करीब ढाई लाख का सामान समेट लिया।

करीब दो घंटे बाद बदमाशों ने पुजारी को बंधन मुक्त कर भवन के निचले हिस्से में एक कमरे में बंद कर दिया। इसके बाद बदमाश आराम से फरार हो गए।

सुबह होने पर मंदिर के पास से गुजर रहे ग्रामीण कुलदीप को पुकार कर बुलाया। जिसने कमरे में बंद पुजारी को बाहर निकाला। इसके बाद सूचना गांव में पहुंची, तो बड़ी संख्या में ग्रामीण मौके पर पहुंच गए।

ग्रामीणों की सूचना पर सीओ अनुज मिश्र और इंस्पेक्टर देवेश सिंह मौके पर पहुंचे। अधिकारियों ने पुजारी से घटना की जानकारी ली।
मंदिर में हुई डकैती की घटना के खुलासे के लिए डॉग स्क्वायड भी पहुंचा।

इसके अलावा फील्ड यूनिट टीम ने भी घटनास्थल से फिंगर प्रिंट लिए। मंदिर में घटना की जानकारी लेने पहुंचे पुलिस अधिकारियों से ग्रामीणों ने जल्द राजफाश करने की मांग की। ग्रामीणों ने घटना खुलासे के लिए तीन दिन का समय दिया है।

Share.

Comments are closed.