महाराजपुर में अवैध संबंधों के शक में पति ने पहले पत्नी की गला दबाकर हत्या की। इसके बाद खुद भी फांसी के फंदे पर झूल गया।

रविवार सुबह परिजनों को घटना की जानकारी हुई तो चीख पुकार मच गई। रूमा में रहने वाले सोनू ने बताया कि उन्होंने अपनी बहन रूबी (22) की शादी करीब चार साल पहले औरैया अछल्दा निवासी मजदूर जयवीर (25) से की थी।

शादी के बाद रूबी औरैया स्थित अपने ससुराल में पति के साथ रहने लगी। शादी के बाद से ही जयवीर रूबी पर शक करने लगा था। इसे लेकर दोनों के बीच विवाद शुरू हो गया।

शादी के करीब डेढ़ साल बाद जयवीर ने रूबी को जबरन फांसी लगाने का प्रयास भी किया, लेकिन परिजनों के बीच बचाव करने से उसकी जान बच गई थी।

रूबी ने जयवीर के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी, जिसके बाद से रूबी अपने मायके रहने लगी थी। कुछ समय पहले जयवीर फिर से रूबी को अपने साथ अछल्दा ले गया था। रूबी के कहने पर करीब 40 दिनों पहले ही रूमा में जयवीर ने अपनी ससुराल के पास ही कमरा किराये पर लिया था।

यहां जयवीर ने घर का खर्च उठाने के लिए मजदूरी शुरू कर दी थी। भाई के अनुसार शनिवार को रूबी और जयवीर उनके घर से ही होकर अपने कमरे पर गए थे। रविवार सुबह रक्षाबंधन के मौके पर सोनू रूबी के कमरे पर पहुंचा तो दंपती का शव देख कर होश फाख्ता हो गए।

पुलिस के अनुसार रूबी का शव फर्श पर पड़ा हुआ था और उसकी गर्दन में रस्सी लिपटी थी। उसी जगह पर जयवीर का शव पंखे के कुंडे के सहारे रस्सी से लटक रहा था। ऐसे में रूबी की गला कस कर हत्या करने के बाद जयवीर के फांसी लगाने की आशंका है।  
 
रूबी का काम करना, लोगों से हंसना बोलना नहीं था पसंद
मृतका के परिजनों के अनुसार जयवीर रूबी पर हर वक्त शक करता था। उसे रूबी का किसी युवक से बात करना पसंद नहीं था। यदि वह किसी से हंस कर बात कर लेती थी तो जयवीर इसे लेकर घर पर जमकर हंगामा करता था।

नई जिंदगी की शुरुआत ले गई मौत की ओर
सोनू के अनुसार शादी के बाद दोनों सिर्फ डेढ़ साल ही साथ रहे थे। इसके बाद से उनका मामला कोर्ट में भी लंबित था। रूबी मायके में ही रहने लगी थी। यहां रह कर वह अपना खर्च उठाने के लिए लेबरी के साथ ही सिलाई का भी काम करती थी।

इस बीच करीब तीन महीने पहले जयवीर ने घर आकर रूबी के साथ फिर से नई जिंदगी की शुरुआत करने की बात कही। इस पर सोनू ने अपने वकील की राय ली तो उन्होंने भी दोनों को मौका देने के लिए कहा।

सोनू के अनुसार उसे अगर पता होता कि नई जिंदगी की शुरुआत दोनों को मौत के रास्ते पर ले जाने वाली है तो वह कभी रूबी को जयवीर के साथ नहीं भेजता।

भतीजे के मजाक करने पर दो दिन पूर्व की थी पिटाई
भाई ने बताया कि रूबी जिस जगह रहती है, उसी मोहल्ले में उनका एक मुंहबोला भतीजा भी रहता है। वह रूबी को अपनी बुआ की तरह मानता था। दो दिन पूर्व उसने जयवीर के सामने ही रूबी से मजाक में कुछ कह दिया। इसके बाद जयवीर ने रूबी को कमरे के अंदर ले जाकर उसकी जमकर पिटाई की थी।

इसके बाद वह काम पर चला गया। इस बात की जानकारी रूबी ने खुद अपने भाई को फोन पर दी थी। इस घटना के बाद से दोनों के बीच तनाव और अधिक बढ़ गया था। 

Share.

Comments are closed.