अलग-अलग विमानों के जरिए आज 146 भारतीय दिल्ली पहुंचे हैं। उनमें से एक सुनील ने बताया- हम 14 अगस्त को निकले थे। एक अमेरिकी दूतावास की फ्लाइट हमें कतर ले गई जहां हम आर्मी बेस पर रुके थे। अमेरिकी दूतावास ने भारतीय दूतावास से बात की जिसके बाद भारतीय दूतावास के लोग हमें लेने आए।

तालिबान पर भरोसा है क्या? सवाल पर बोले जो बाइडेन- मुझे आपके सहित किसी पर भी भरोसा नहीं है, मैं आपसे प्यार करता हूं लेकिन ऐसे बहुत से लोग नहीं हैं जिन पर मुझे भरोसा है। तालिबान को एक फंडामेंटल डिसिजन लेना है।

Share.

Comments are closed.