खैराबाद कस्बे के पनवडिया इलाके में शनिवार की दोपहर बाद सेल्फी लेने के चक्कर में 12 लोगों से भरी नाव पलट गई। जिससे एक किशोर की डूबकर मौत हो गई, जबकि तीन लोगों की हालत नाजुक बताई जा रही है। हालांकि नाव में सवार अन्य लोग सुरक्षित निकाल लिए गए हैं। नाव में ज्यादातर महिलाएं शामिल थीं। यह लोग लखनऊ से बावन डंडा ताजिया के मौके पर खैराबाद आए हुए थे। खबर पाकर पुलिस व प्रशासनिक टीम भी पहुंच गई थी

दरअसल मोहर्रम के मौके पर खैराबाद में हर साल 52 डंडे का मशहूर ताजिए का मेला होता था। जिसके चलते लखनऊ में रहने वाले खैराबाद के लोग यहां आए हुए थे। शनिवार की दोपहर बाद करीब तीन बजे यह लोग खैराबाद के पनवड़िया इलाके में स्थित तालाब पर गए थे।

यहां तालाब में मछली पालन करने वालों की नाव पड़ी थी। जिस पर यह लोग सवार होकर तालाब की सैर करने लगे। नाव में ज्यादातर महिलाएं थीं। कई युवक व किशोर भी थे। किशोर अपने मोबाइल से नाव पर से ही सेल्फी लेने लगे। तभी अचानक 12 लोगों से भरी नाव हिलोरे खाकर पलट गई।

जिससे लोग डूबने लगे। चीख पुकार मच गई।
आसपास मौजूद लोग बचाने दौड़े। लोगों ने डूब रहे ज्यादात तर लोगों को सुरक्षित निकाल लिया, लेकिन लखनऊ निवासी बबलू के पंद्रह वर्षीय बेटे अजान की डूबने से मौत हो गई। जबकि अख्तर बानो (45) पत्नी शमशेर छतरपुर हुसैनगंज लखनऊ, शुएब (13) पुत्र मोहम्मद शरीफ छतरपुर हुसैनगंज की गंभीर हालत देखते हुए उन्हें जिला अस्पताल उपचार के लिए भेजा गया। पचास वर्षीय नसरीन पत्नी चांद बाबू को सीएचसी खैराबाद से प्राथमिक उपचार के बाद घर भेज दिया गया। अन्य लोग सुरक्षित हैं। घटना की खबर पाकर पुलिस प्रशासनिक टीम भी पहुंच गई थी।

Share.

Comments are closed.