देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की आज 77वीं जयंती पर कांग्रेस के कई दिग्गज नेताओं समेत अन्य विपक्षी दलों के नेताओं ने भी राजीव गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की।

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी समेत कई कांग्रेस नेताओं ने वीरभूमि जाकर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित की है। दरअसल कांग्रेस इस दिन को सद्भावना दिवस के तौर पर बनाती है।

वही इस मौके पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सोशल मीडिया के जरिए पूर्व प्रधानमंत्री को श्रद्धांजलि अर्पित कर ट्वीट किया है इस मौके पर पीएम मोदी का ट्वीट करना विपक्षी नेता और पूर्व सांसद पप्पू यादव को पसंद नहीं आया है।

इस मामले में जाप नेता पप्पू यादव ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि राजीव गांधी जी ने देश को 636 जवाहर नवोदय विद्यालय दिया। जहां गरीब मेधावी बच्चे पढ़कर कमाल करते हैं।

मोदी जी ने बीजेपी का 500 कार्यालय बनाया। जहां हेडगंवार ट्रोल आर्मी का प्रशिक्षण होता है, जो प्रशिक्षित होकर समाज में नफरत का जहर फैलाते हैं। राजीव जी को नमन।

दरअसल हाल ही में टोक्यो ओलंपिक के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजीव गांधी खेल रतन पुरस्कार का नाम बदला है। अब इस पुरस्कार को मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार के तौर पर जाना जाएगा।

एक लंबे वक्त से देश का नाम रोशन करने वाले खिलाड़ियों को इस पुरस्कार से सम्मानित किया जाता रहा है। लेकिन मोदी सरकार ने इस पुरस्कार का नाम बदल डाला है।

जिसके पीछे उन्होंने वजह बताई है कि मेजर ध्यानचंद ने देश के लिए कई उपलब्धियां हासिल की है इसलिए पुरस्कार का नाम उनके नाम पर होना चाहिए। इसका कांग्रेस समेत अन्य विपक्षी दलों ने भी विरोध किया है।

आपको बता दें कि मोदी सरकार अपने शासनकाल में देश के इतिहास के साथ छेड़छाड़ करती रही है। इससे पहले भी कई जगहों और शहरों के नाम बदले जा चुके हैं।

Share.

Comments are closed.