यूपी के बुलंदशहर में आप अपनी टीवी स्क्रीन पर आंख पर काली पट्टी बंधे जिस छात्रा को बाइक दौड़ाते और अखबार की हेडलाइन्स पढ़ते देख रहे हैं यह कोई नौटंकी या जादू नहीं है, बल्कि हकीकत है।

दरअसल, यह कक्षा 12 की छात्रा दीक्षा चौधरी है, जो न सिर्फ आंख बन्द कर कुछ भी पढ़ लिख लेती है, बल्कि बाइक भी चलाती है। कुल मिलाकर अगर दीक्षा के दावे पर यकीन करें तो वह वे सभी काम आंख बंदकर कर लेती है जो आम आदमी आंखे खोलकर करता है। इसी दावे का सच जानने के लिए हमारी टीम बुलन्दशहर के गाँव खन्दोई पहुंची और दीक्षा से न सिर्फ बात की बल्कि दावे का सच भी जाना। दीक्षा ने कैमरे के सामने अपनी आंखों में काली पट्टी लपेटकर कर बाइक चलाई, बल्कि अखबार और अन्य दस्तावेजों को भी बीना रुके पढा।

वहीं इस सब को लेकर दीक्षा चौधरी ने बताया कि जब वह कक्षा 8 में पढ़ती थी तब उनको बन्द आंखों से टीवी दिखाई दिया। शुरुआत में किसी को यकीन नहीं हुआ, लेकिन बाद में यह सब आम हो गया।
दीक्षा के मुताबिक यह विशेषता कुदरत की देन है। इसके लिए न तो कभी उसने ट्रेनिंग की और न ही कोई किसी तरह का कोर्स ही किया।

Share.

Comments are closed.