उत्तर प्रदेश के कानपुर में नाबालिग के साथ रेप के आरोपी पूर्व इंस्पेक्टर दिनेश त्रिपाठी को गिरफ्तार कर लिया गया है। पीड़िता के घर वाले ने उन्हें कमरे में बच्ची के साथ आपत्तिजनक हालत में देखा था।

बुधवार को आरोपी को कोर्ट में पेश किया जायेगा और पीड़िता का मेडिकल कराया जायेगा। दरअसल, रेप के आरोपी पूर्व इंस्पेक्टर दिनेश त्रिपाठी कानपुर के चकेरी थाने में ही कई साल पहले थाना इंचार्ज थे, तभी उन्होंने चकेरी की फ्रेंड्स कॉलोनी में अपना घर बनवाया था। इस घर में ही नाबालिग लड़की किराए पर अपने परिजनों के साथ रहती थी।

आरोपों के मुताबिक, रविवार की रात दिनेश त्रिपाठी अपने घर पर आये, जहां उन्होंने नाबालिग को कमरे में अकेला पाकर उसका रेप किया। पुलिस ने बताया कि दिनेश त्रिपाठी का फ्रेंड्स कॉलोनी में घर है, जिनके यहां पीड़ित लड़की किराए पर अपने घरवालों के साथ रहती थी, लड़की के घरवालों ने एफआईआर लिखाई है।

वैसे कानपुर में पुलिस अफसर की रंगीन मिजाजी का यह पहला मामला नहीं है। कानपुर में ही दस साल पहले चकेरी सर्किल के सीओ अमरजीत शाही ने एक पंद्रह वर्षीय नाबालिग बच्ची को धमकाकर कई दिनों तक रेप किया था।

जिसमें अमरजीत शाही को सजा भी हो गई थी। अभी एक महीने पहले ही उन्नाव के सीओ कृपा शंकर कनौजिया एक महिला सिपाही के साथ कमरे में आपत्तिजनक हालात में मिले थे, जिन्हें उन्नाव एसपी ने सस्पेंड भी कर दिया था।

Share.

Comments are closed.