पश्चिम बंगाल में हो रही लगातार बारिश के कारण लोगों के परेशनी का सामना करना पड़ रहा है। नदियों का जलस्तर भी बढ़ गया है जिस कारण कई जिलों में बाढ़ जैसे हालात बने हुए हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, राज्य के 6 जिले बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित हैं। इस वजह से अभी तक साल लोगों की मौत हो चुकी है और लाखों लोग बेघर हो गए हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 2.5 लाख लोग बाढ़ की वजह से बेघर हुए हैं। लोगों की सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया जा रहा है। पश्चिम बंगाल सरकार में एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सीएम ममता बनर्जी ने मंत्रियों को बचाव अभियान पर निगरानी रखने का आदेश दिया है। वहीं हुगली जिले में सेना व वायुसेना को राहत बचाव कार्य में लगा दिया है।

जानकारी के अनुसार, दामोदर घाटी निगम के बांध से पानी छोड़ा गया था। और एक हफ्ते में ही बारिश की वजह से यह स्थिति पैदा हो गई है। पूर्व मेदिनीपुर जिले का घाटाल शहर पानी में डूब चुका है। यहां पर तीन लोगों की मौत हुए है। जबकि, केसपुर में भी पानी में डूबने से एक व्यक्ति की जान गई है। कुल मिलाकर बाढ़ की वजह से 7 लोगों की मौत हुई है।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि हुगली के आरामबाग में बाढ़ में फंसे लोगों को बाहर निकालने के लिए हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल किया जा रहा है। बाढ़ की चपेट में आरामबाग सबडिवीजन पूरी तरह से बाढ़ की चपेट में आ गया है। यहां पर हजारों की संख्या में लोग बेघर हो गए हैं। बेघर लोगों को पास के ही राहत शिविर में पहुंचाया जा रहा है।

Share.

Comments are closed.