20 जुलाई। उत्तर दिनाजपुर जिले के रायगंज में मंगलवार को घर से कुछ ही दूरी पर तृणमूल कांग्रेस के झंडे के साथ कांग्रेस बूथ अध्यक्ष का

फंदे से लटकता शव बरामद किया गया। रायगंज थाने के गौरी ग्राम पंचायत के दक्षिण बिष्णुपुर गांव में आज सुबह घटना के प्रकाश में आने के

बाद पूरे इलाके में हड़कंप मच गया. मृतक की पहचान 50 वर्षीय देवेश बर्मन के रूप में हुई है, वह गौरी ग्राम पंचायत में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस

के बूथ अध्यक्ष थे। इधर शव बरामद किये जाने की खबर मिलते ही रायगंज थाने की पुलिस मौके पर पहुंच कर शव को बरामद कर उसे

पोस्टमार्टम के लिए रायगंज गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज व अस्पताल भेज दिया। जानकारी के अनुसार रायगंज थाने के गौरी ग्राम पंचायत के

दक्षिण बिष्णुपुर गांव निवासी देबेश बर्मन रोज की तरह सोमवार की शाम को चाय पीने निकले थे . उसके बाद वे घर नहीं लौटे। मंगलवार सुबह

ग्रामीणों ने घर से कुछ दूर पेड़ से लटके देवेश बर्मन का शव देखा। देवेश बर्मन के लटकते शव पर तृणमूल कांग्रेस के झंडे लटके नजर आए।

घटना से क्षेत्र में व्यापक अशांति फैल गई। देवेश बर्मन 2013 में रायगंज प्रखंड के गौरी ग्राम पंचायत के सीपीआईएम के निर्वाचित पंचायत

सदस्य थे. 2018 में उन्होंने कांग्रेस की टिकट पर पंचायत चुनाव लड़े और हार गए। देवेश बर्मन वर्तमान में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के गौरी क्षेत्र

के बूथ अध्यक्ष थे। उनके बेटे विद्रोही बर्मन ने कहा, “मैं उन लोगों के लिए उचित सजा की मांग करता हूं जिन्होंने मेरे पिता को इस तरह फांसी

पर लटका दिया।” हालांकि पुलिस को अभी तक घटना के पीछे कोई राजनीतिक मकसद नहीं मिला है। रायगंज थाने की पुलिस ने घटना की

जांच शुरू कर दी है। एक लोकप्रिय कांग्रेस नेता के निधन से क्षेत्र में शोक की छाया व्याप्त है.

Share.

Comments are closed.