नयी दिल्ली, 14 जुलाई (भाषा) आयकर विभाग ने आरोप लगाया है कि बेंगलुरु स्थित एक प्रमुख मानव संसाधन मुहैया कराने वाली कंपनी पर छापे में 880 करोड़ रुपये की अघोषित आय मिली है।

दूसरी ओर क्वेस कॉर्प लिमिटेड ने इस आरोप का खंडन करते हुए कहा है कि वह आयकर विभाग को पूरा सहयोग दे रही है।

छापे की कार्यवाही आठ जुलाई को कंपनी के बेंगलुरु स्थित दो परिसरों में शुरू हुई थी।

सीबीडीटी ने मंगलवार को जारी एक बयान में कहा कि छापे में कुल 880 करोड़ रुपये की अघोषित आय का पता चला है, जो विभिन्न आकलन वर्षों से संबंधित हैं।

दूसरी ओर कंपनी के प्रवक्ता ने कहा, ‘‘आयकर विभाग द्वारा अभी तक किए गए सवाल व्याख्यात्मक किस्म के हैं। हालांकि, हम आगे संवाद की प्रतीक्षा कर रहे हैं, हम उनके साथ सहयोग जारी रखेंगे।’’

Share.

Comments are closed.