बूलगढ़ी गांव की दलित युवती के साथ कथित दुष्कर्म तथा हत्या के मामले में जेल में बंद चार आरोपितों के हाथरस के एसपी को भेजे गए पत्र के बाद पीड़ित परिवार ने भी अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की है।

पीड़ित परिवार का कहना है कि अब तो हमारे खिलाफ साजिशों का दौर शुरू हो गया है, यह सब सुनाने से बेहतर है कि हमको जहर दे दिया जाए।आरोपितों का एसपी हाथरस के नाम पत्र वायरल होने के बाद पीड़िता की भाभी, मां और पिता ने कहा कि हमारे खिलाफ साजिश की जा रही है।

भाभी ने कहा कि उसको (पीड़िता) तो जिला व पुलिस प्रशासन ने चुपके से जला दिया। अब हम लोगों को जहर दे दो। पीड़िता के पिता ने कहा कि हमारे खिलाफ तो लगातार साजिश रची जा रही है। अब पत्र के रूप में एक और बड़ा झूठ सामने आया है। हमारे ऊपर तो रोज आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है।

उन्होंने साफ कहा कि चार में से किसी भी आरोपित से उनकी कभी भी बात नहीं हुई है। न तो इनमें से किसी की भी हमारे लड़के से दोस्ती नहीं है। यह चारों तो आतंकी टाइप के हैं, इनसे भला कौन दोस्ती करेगा। इनमें से किसी का भी हमारे घर क्या, घर के आसपास भी आना-जाना नहीं था।

मृत युवती के पिता ने कहा कि चार में से एक आरोपित का नाम हमारे लड़के का भी है। उन्होंने बताया कि घटना वाले दिन की कई जानकारी उनको काफी बाद में मिली। हमारी लड़की के साथ वारदात होने के बाद पत्नी तथा बेटा उसको लेकर अस्पताल भागे और थाना में जाकर सूचना दी।

इसके बाद तो हम लोग बेटी के इलाज में लग गए। हाथरस के बाद फिर अलीगढ़ के मेडिकल कॉलेज चले गए। थाना में सांसद आए और हमको न्याय का भरोसा दिलाने के साथ बेटी के इलाज की जानकारी ली।

Share.

Comments are closed.