अक्सर अपने बयान के चलते सुर्खियों में रहने वाले बीजेपी सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने चीन के साथ बढ़ते तनाव के बीच श्वेत पत्र लाने की मांग की है। इस बारे में सुब्रह्मण्यम स्वामी ने कहा है कि यही सही समाधान है।

सुब्रह्मण्यम स्वामी इस बारे में अपने ट्विटर अकाउंट पर एक ट्वीट लिखा है जिसमें उन्होंने कहा है कि चीन के साथ गतिरोध पर श्वेत पत्र जारी करने में क्या कठिनाई है?

यह भी जाने- कल तक अमित मालवीय को हटाए पार्टी, वरना मुझे खुद ही करना पड़ेगा डिफेंड: सुब्रमण्यम स्वामी

परेशानी हमारी वर्तमान स्थिति के बारे में है जो कि एक नई यथास्थिति बनने जा रही है। केवल एक युद्ध इसे यथास्थिति तक सुधार सकता है। क्या भारत इसके लिए तैयार है

यहां आपको ये बता दें कि श्वेत पत्र किसी देश की सरकार द्वारा तब लाया जाता है जब किसी विशेष मुद्दे पर विस्तार से जानकारी लेनी हो।

भारत और चीन के बीच बढ़े तनाव और सीमा पर बने हुए गतिरोध को देखते हुए बीजेपी नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने भारत सरकार से श्वेत पत्र जारी करने की मांग की है। हालांकि स्वामी का युद्ध को आखिरी समाधान बताने पर सवाल उठने लगे हैं।

यह भी जाने-BJP पार्टी की IT Cell पर भड़के स्वामी, कहा – फर्जी अकाउंट बनाकर मुझे कर रहे परेशान

बताते चले कि भारत और चीन के बीच पिछले 5 महीनों से पूर्वी लद्दाख में आपसी झड़पें और तनातनी को देखा जा रहा है। दोनों देश की सेनाएं आमने-सामने हैं और कमांडर्स की मीटिंगें चल रही हैं।

Share.

Comments are closed.