उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में होली की दिन 9 साल की बच्ची से रेप फिर उसकी हत्या करने के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। मंगलवार को पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सामने आया है कि रेप के बाद बच्ची की निर्मम तरीके से हत्या की गई थी।

रिपोर्ट में उसके शरीर पर दो दर्जन से अधिक चोटों के निशान पाये गए हैं और आंतों पूरी तरह से फट गई है। पुलिस ने इस मामले में अबतक 10 लोगों को हिरासत में लिया है और उनसे पूछताछ कर रही है।

यह भी जाने- उन्नाव रेप-हत्या केस : परिजनों ने अंतिम संस्कार करने से किया इंकार, आरोपी अभी भी फरार

बच्ची के परिजन आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। उनका कहना है कि जब तक आरोपी गिरफ्तार नहीं होते, अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा। मंगलवार की दोपहर 9 साल की बच्ची होली खेलने गई थी तब उसके साथ के घटना घाटी।

गाँव के लोगों को लड़की बेहोश मिली और उसका बहुत खून बह चुका था। जिसके बाद उसे कानपुर के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उसने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

यह भी जाने- उन्नाव बलात्कार और हत्या मामले में प्रियंका गाँधी ने कहा – भाजपा सरकार में बच्चों के साथ अपराध की सबसे ज्यादा घटनाएं

उन्नाव के पुलिस अधीक्षक (एसपी) विक्रांत वीर ने बताया कि फोरेंसिक टीम ने उस स्थान से नमूने लिए हैं जहां लड़की को बेहोश पाया गया था। हमने मामले की विस्तृत जांच शुरू कर दी है और आरोपियों की पहचान करने और उन्हें गिरफ्तार करने के लिए एडिशनल एसपी (नॉर्थ) की देखरेख में सात टीमों का गठन किया है।

एसपी ने बताया “10 से अधिक कुछ संदिग्धों को हिरासत में ले लिया गया है और हम उनसे पूछताछ कर रहे हैं। हम ग्रामीणों से भी बात कर रहे हैं की क्या उन्होंने लड़की के साथ किसी को देखा है।

यह भी जाने- फिर उन्नाव में नौ साल की मासूम से हैवानियत, पीड़िता ने इलाज के दौरान तोड़ा दम

गाँव इतना बड़ा नहीं है और यहां की आबादी लगभग 1,200 है। हमें पूरा विश्वास है कि हम जिस आरोपी की तलाश कर रहे हैं, वह गांव का ही कोई व्यक्ति है। क्योंकि अगर कोई बाहरी व्यक्ति होता तो होली का दिन था और किसी भी बाहरी व्यक्ति की पहचान आसानी से हो जाती।”

उन्होंने आगे कहा “आज पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में मौत के कारण के रूप में एंटे-मॉर्टम इंजरी की पुष्टि हुई है। हमें भरोसा है कि हम जल्द ही इस मामले का पता लगाएंगे और आरोपी को गिरफ्तार करेंगे।”

Share.

Comments are closed.