केरल सरकार गुरुवार को पड़ोसी राज्य तमिलनाडु में सूखे के कारण उत्पन्न जल संकट को देखते हुए ड्रिंकिंग वाटर का प्रस्ताव दिया जिसको तमिलनाडु ने ख़ारिज कर दिया।

तिरुवनंतपुरम में मुख्यमंत्री कार्यालय ने कहा कि सरकार ने तमिलनाडु के पार्च्ड क्षेत्रों में ट्रेन से 20 लाख लीटर पानी पहुंचाने की इच्छा व्यक्त की है। “लेकिन इस प्रस्ताव को तमिलनाडु के मुख्यमंत्री कार्यालय ने ठुकरा दिया। हमें जवाब मिला कि इसकी अब जरूरत नहीं है ”,

केरल ने लंबे समय तक वर्षा की अनुपस्थिति के बाद तमिलनाडु के बड़े हिस्से में पानी की कमी का सामना करने के बारे में रिपोर्टों के आलोक में प्रस्ताव किया था। चेन्नई में पानी की आपूर्ति करने वाले अधिकांश जलाशयों के सूखे होने की सूचना है और कृषि क्षेत्र गंभीर रूप से प्रभावित हुआ है।

हालांकि, दक्षिण पश्चिम मानसून के आगमन और देर से शुरू होने के कारण केरला के अधिकांश जलाशय सूखने वाले है। लेकिन राज्य के जलाशयों में भंडारण की स्थिति तमिलनाडु की तुलना में बहुत बेहतर है।

Share.

Leave A Reply